ad

ads

True love story|hindi stories

Hindi stories


sunil को चौदह साल की उम्र में ही पहला प्यार हो गया था| sunil उस समय eighth क्लास में था, उम्र कम थी लेकिन मॉर्डन ज़माने में लोग इसी उम्र में प्यार कर बैठते हैं|



sunil का ये पहला प्यार उसकी क्लास में पढ़ने वाली लड़की "sonu" के साथ था| sonu अमीर घराने की लड़की थी, उम्र यही कोई 13 - 14 साल ही होगी और दिखने में बला की खूबसूरत थी| sonu के father का प्रापर्टी डीलिंग का काम था, अच्छे पैसे वाले लोग थे|

sunil मन ही मन sonu को दिल दे बैठा था लेकिन हमेशा कहने से डरता था| sunil के पिता एक स्कूल में educator थे| उनका परिवार भी सामान्य ही था इसीलिए डर से sunil कभी प्यार का इजहार नहीं करता था|


चलो इस प्यार के बहाने sunil की एक गन्दी आदत सुधर गयी| sunil आये दिन स्कूल ना जाने के नए बहाने बनाता था लेकिन आज कल time से तैयार होके चुपचाप school चला आता था| माँ बाप सोचते बच्चा सुधर गया है लेकिन बेटे का दिल तो कहीं और अटक चुका था|

Hindi stories


समय ऐसे ही बीतता गया… लेकिन sunil की कभी प्यार का इजहार करने की हिम्मत नहीं हुई बस चोरी छिपे ही sonu को देखा करता था| हाँ कभी - कभी उन दोनों में बात भी होती थी लेकिन पढाई के टॉपिक पर ही.. sunil दिल की बात ना कह पाया|

some time later ,,8thं पास की, ninth पास की… अब 10 thपास कर चुके थे लेकिन चाहत अभी भी दिल में ही दबी थी|

आज स्कूल का अंतिम दिन था| sunil मन ही मन उदास था कि शायद अब sonu को शायद ही देख पायेगा क्यूंकि sunil के पिता की इच्छा थी कि दसवीं के बाद बेटे को बड़े शहर में पढ़ाने भेजें|

स्कूल के अंतिम दिन सारे दोस्त एक दूसरे से प्यार से गले मिल रहे थे, अपनी यादें शेयर कर रहे थे| sonu भी अपनी फ्रेंड्स के साथ काफी खुश थी आज..सब एन्जॉय कर रहे थे,, अंतिम दिन जो था लेकिन sunil की आँखों में आंसू थे|


sunil चुपचाप क्लास में गया और sonu के बैग से उसका स्कूल identity card निकाल लिया| उस कार्ड पर sonu की प्यारी सी फोटो थी| sunil ने सोचा कि इस फोटो को देखकर ही मैं अपने प्यार को याद किया करूंगा|

बैंक से लोन लेकर father ने sunil को बाहर पढ़ने भेज दिया| sonu के पिता ने भी किसी दूसरे शहर में बड़ा मकान बना लिया और वहां शिफ्ट हो गए| sunil अब हमेशा के लिए sonu से जुदा हो चुका था|

समय अपनी रफ़्तार से बीतता गया,, sunil ने अपनी पढाई पूरी की और अब एक बड़ी कम्पनी में नौकरी भी करने लगा था, अच्छी तनख्वाह भी थी लेकिन जिंदगी में एक कमी हमेशा खलती थी – वो थी sonu।। लाख कोशिशों के बाद भी sunil फिर कभी sonu से मिल नहीं पाया था|

Hindi stories


घर वालों ने sunil की शादी एक सुन्दर लड़की से कर दी और संयोग से उस लड़की का नाम भी sonu ही था| sunil जब भी अपनी पत्नी को sonu नाम से पुकारता उसके दिल की धड़कन तेज हो उठती थी| आखों के आगे बचपन की तस्वीरें उभर आया करतीं थी| पत्नी को उसने कभी इस बात का अहसास ना होने दिया था लेकिन आज भी sonu से सच्चा प्यार करता था|

एक दिन sunil कुछ फाइल्स तलाश कर रहा था कि अचानक उसे sonu का वो बचपन का identity Card मिल गया| उसपर छपे sonu के प्यारे से चेहरे को देखकर sunil भावुक हो उठा कि तभी पत्नी अंदर आ गयी और उसने भी वह फोटो देख ली|

पत्नी – यह कौन है ? जरा इसकी फोटो मुझे दिखाओ

Sunil – oye कुछ नहीं, ये ऐसे ही बचपन में दोस्त थी

पत्नी – oye यह तो मेरी ही फोटो है, ये मेरा बचपन का फोटो है,, देखो ये लिखा "Gandhi youngsters institute'' यहीं तो पढ़ती थी मैं

sunil यह सुनकर ख़ुशी से पागल सा हो गया – क्या है तुम्हारी फोटो है ? मैं इस लड़की से बचपन से बहुत प्यार करता हूँ

sonu ने अब sunil को अपनी पर्सनल डायरी दिखाई जहाँ sonu की कई बचपन की फोटो लगीं थीं| sunil की पत्नी वास्तव में वही sonu थी जिसे वह बचपन से pyaar करता था|
hindi stories,love story in Hindi,hindi story,love story hindi movie,hindi shayari,love shayari,real love story in Hindi,sad love story in Hindi,real love story,sad story in Hindi,romantic story in Hindi,love kahani in Hindi,true love in Hindi,love kahani


sonu ने sunil के आंसू पौंछे और प्यार से उसे गले लगा लिया क्यूंकि वह आज से नहीं बल्कि बचपन से ही उसका चाहने वाला था|

sunil बार god का शुक्रिया अदा कर रहा था!!

frnds वो कहते हैं ना कि प्यार अगर सच्चा हो तो रंग लाता ही है| ठीक वही हुआ sunil और sonu के साथ भी..

For more hindi stories click here-

Hindi stories

True love story|hindi stories True love story|hindi stories Reviewed by Rich Munda on February 24, 2019 Rating: 5

No comments:

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

Powered by Blogger.